हमारा स्वभाव



स्वभाव
आपका स्वभाव
कैसा है स्वभाव ?
स्वभाव= स्व + भाव = स्वयं का भाव ,
    स्वयं की स्थिति, मनोदशा,चरित्र,विचार, पारिवारिक मूल्य, अर्जित ज्ञान,व्यक्तिगत चिंतन और ऐसी ही बहुत सारी चीजों का सम्मिलित परिणाम होता है - हमारा स्वभाव

आपका स्वभाव कैसा है यह जानने वाले प्रथम व्यक्ति आप होते है उसके बाद ही दुनिया जानेगी. समय समय पर जैसे-जैसे हम जीवन यात्रा में आगे बढ़ते जाते है स्वभाव में परिवर्तन होता रहता है.
 बहुत थोड़े से प्रयास से यह जाना जा सकता है की आपका मूल स्वभाव कैसा है और उस पर ध्यान दे कर भरपूर बदलाव किया जा सकता है.

-शांत रहना
-बात-बात में क्रोधित हो जाना
-चंचलता
-झगडालू प्रवृत्ति
-चालाक होना
-जिज्ञासु होना
-सरल होना

      ऐसे ही बहुत से व्यक्ति हमारे चारों और है विभिन्न स्वभाव के.
आप थोडा गहरे चिंतन से जान सकते है की आपका स्वभाव कैसा है और मै कहूँगा की अवश्य जानिए . कोशिश कीजिये की आप अपने स्वभाव से सम्बंधित सभी बिन्दुओं पर ध्यान दे सके क्योंकि हमारे जीवन की ख़ुशी हमारे इसी स्वभाव पर सबसे ज्यादा निर्भर होती है.
   यह हमारा स्वभाव ही है जो हमें प्रेरित करता है की हमारे निर्णय क्या हो?
जब हम किसी बात पर निर्णय ले रहे होते है अथवा कोई चुनाव कर रहे होते है तो उस समय हम नही जानते की हमारा निर्णय भविष्य में हमारे लिए ख़ुशी का कारण बनेगा या दुःख का किन्तु हमारा स्वभाव काफी कुछ इस बारे में जानता रहता है क्योंकि इसकी गहरी जड़ें हमारे अवचेतन से जुडी रहती है.    
अब यदि आपने अपने स्वभाव को सही तरीके से जानते है तो दूरगामी परिणाम का आकलन सहजता से कर सकते है .

      अपने स्वभाव को अच्छे से जानने का एक बड़ा फायदा यह भी होता है की आप समय-समय पर अपना विश्लेषण कर सकते है. अपनी आदतों पर ध्यान दे सकते है और उनमे जरुरी बदलाव कर सकते है. अपनी सफलता -असफलता का विश्लेषण के सकते है.    

तो याद रखिये की आपका स्वभाव आपको सफलता के उच्चतम बिंदु तक ले जा सकता है. अतः स्वयं को खोजिये...जानिए...और लगाइए खुशियों की तरफ एक छलांग....

...................................................................................
आपके प्रश्नो, विचारों और आलेखों का स्वागत है . आप हमें सीधे मेल भी कर सकते है-
mastermauryans@gmail.com 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बाज़ और आपकी उडान

चलो शुरू करें...